• Blog Stats

    • 128,023 Visitors
  • Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

    Join 1,071 other followers

  • Google Translator

    http://www.google.com/ig/adde?moduleurl=translatemypage.xml&source=imag

  • FaceBook

  • Islamic Terror Attacks

  • Meta

  • iPaper Embed

  • Calendar

    September 2016
    M T W T F S S
    « Aug    
     1234
    567891011
    12131415161718
    19202122232425
    2627282930  
  • Authors Of Blog

  • Monthly Archives

Killery got away with committing a crime!


Some Times By : Sam Hindu

She said she spent 11 hours in front of a congressional committee that she has stanima, usually most people who stand 11 hours and front of congressional committee has committed a crime or done something wrong? 

Haha right! 

Yeah u stood Infront of a congressional committee because of crimes u committed u fool. 

That’s not stamina. 

And having to be carried into a car after u fell out because “u stood in 79 degree weather too long” and “had pneumonia” isn’t stamina.

For her to throw that up and grin about it on stage at the debate, it’s like her grinning at us as she got away with committing a crime!

Lester tried his hardest to make Trump look bad, and especially when he put him on the spot about saying Hillary does not look presidential. 
Why didn’t Lester ask Hillary about calling Trump a racist?

The other time was the birther issue. 

why did Lester choose to pick on 

Trump with those things, but neglected to bring up the Hillary issues such as Benghazi, Private Sever and deleting of emails, Clinton Foundation, etc.?

Definitely Lester Holt favored Hillary over Trump! 

He kept trying to interrupt Trump! 

On top of that he kept asking difficult questions against Trump. And not Hillary it was obvious.

Best line. Coulda been more: Benghazi, missing billions at State Dept., 

money funneled to Clinton Foundation from Saudi Arabia, transcripts of speech to Goldman Sachs, her version of cyber security.  

Lester missed a number of opportunities.

May be his family was threatened. Or at Risk. 

why Havan is most sacred ritual in Hinduism



Denigration of Hindu sacred symbols has become a fashion in Bollywood. Recent example is ‘Havan Kund maston ka jhund’, a song from the movie Bhag Milkha Bhag. 

Is Havan really a useless ritual that can be mocked by anyone in the name of freedom of expression or art? 

This article by Agniveer in Hindi explains that why Havan is most sacred ritual in Hinduism and why is it the duty of every human to perform Havan.

 This is to show how Havan is the source of all happiness and bliss in both material and spiritual world. Read this, know your roots..

हवन / यज्ञ/ अग्निहोत्र मनुष्यों के साथ सदा से चला आया है। हिन्दू धर्म में सर्वोच्च स्थान पर विराजमान यह हवन आज प्रायः एक आम आदमी से दूर है। दुर्भाग्य से इसे केवल कुछ वर्ग, जाति और धर्म तक सीमित कर दिया गया है। कोई यज्ञ पर प्रश्न कर रहा है तो कोई मजाक। इस लेख का उद्देश्य जनमानस को यह याद दिलाना है कि हवन क्यों इतना पवित्र है, क्यों यज्ञ करना न सिर्फ हर इंसान का अधिकार है बल्कि कर्त्तव्य भी है. यह लेख किसी विद्वान का नहीं, किसी सन्यासी का नहीं, यह लेख १०० करोड़ हिंदुओं ही नहीं बल्कि ७ अरब मनुष्यों के प्रतिनिधि एक साधारण से इंसान का है जिसमें हर नेक इंसान अपनी छवि देख सकता है. यह लेख आप ही के जैसे एक इंसान के हृदय की आवाज है जिसे आप भी अपने हृदय में महसूस कर सकेंगे..

हवन- मेरी आस्था

हिंदू धर्म में सर्वोपरि पूजनीय वेदों और ब्राह्मण ग्रंथों में यज्ञ/हवन की क्या महिमा है, उसकी कुछ झलक इन मन्त्रों में मिलती है-

अग्निमीळे पुरोहितं यज्ञस्य देवमृत्विजम्. होतारं रत्नधातमम् [ ऋग्वेद १/१/१/]

समिधाग्निं दुवस्यत घृतैः बोधयतातिथिं. आस्मिन् हव्या जुहोतन. [यजुर्वेद 3/1]

अग्निं दूतं पुरो दधे हव्यवाहमुप ब्रुवे. [यजुर्वेद 22/17]

सायंसायं गृहपतिर्नो अग्निः प्रातः प्रातः सौमनस्य दाता. [अथर्ववेद 19/7/3]

प्रातः प्रातः गृहपतिर्नो अग्निः सायं सायं सौमनस्य दाता. [अथर्ववेद 19/7/4]

तं यज्ञं बर्हिषि प्रौक्षन् पुरुषं जातमग्रतः [यजुर्वेद 31/9]

अस्मिन् यज्ञे स्वधया मदन्तोधि ब्रुवन्तु तेवन्त्वस्मान [यजुर्वेद 19/58]

यज्ञो वै श्रेष्ठतमं कर्म [शतपथ ब्राह्मण 1/7/1/5]

यज्ञो हि श्रेष्ठतमं कर्म [तैत्तिरीय 3/2/1/4]

यज्ञो अपि तस्यै जनतायै कल्पते, यत्रैवं विद्वान होता भवति [ऐतरेय ब्राह्मण १/२/१]

यदैवतः स यज्ञो वा यज्याङ्गं वा.. [निरुक्त ७/४]

इन मन्त्रों में निहित अर्थ और प्रार्थनाएं इस लेख के अंत में दिए जायेंगे जिन्हें पढकर कोई भी व्यक्ति खुद हवन करके अपना और औरों का भला कर सकता है. पर इन मन्त्रों का निचोड़ यह है कि ईश्वर मनुष्यों को आदेश करता है कि हवन/यज्ञ संसार का सर्वोत्तम कर्म है, पवित्र कर्म है जिसके करने से सुख ही सुख बरसता है.

यही नहीं, भगवान श्रीराम को रामायण में स्थान स्थान पर ‘यज्ञ करने वाला’ कहा गया है. महाभारत में श्रीकृष्ण सब कुछ छोड़ सकते हैं पर हवन नहीं छोड़ सकते. हस्तिनापुर जाने के लिए अपने रथ पर निकल पड़ते हैं, रास्ते में शाम होती है तो रथ रोक कर हवन करते हैं. अगले दिन कौरवों की राजसभा में हुंकार भरने से पहले अपनी कुटी में हवन करते हैं. अभिमन्यु के बलिदान जैसी भीषण घटना होने पर भी सबको साथ लेकर पहले यज्ञ करते हैं. श्रीकृष्ण के जीवन का एक एक क्षण जैसे आने वाले युगों को यह सन्देश दे रहा था कि चाहे कुछ हो जाए, यज्ञ करना कभी न छोड़ना.

जिस कर्म को भगवान स्वयं श्रेष्ठतम कर्म कहकर करने का आदेश दें, वो कर्म कर्म नहीं धर्म है. उसका न करना अधर्म है.

हवन- मेरा जीवन

मेरा जन्म हुआ तो हवन हुआ. पहली बार मेरे केश कटे तो हवन हुआ. मेरा नामकरण हुआ तो हवन हुआ. जन्मदिन पर हवन हुआ, गृह प्रवेश पर हवन हुआ, मेरे व्यवसाय का आरम्भ हुआ तो हवन हुआ, मेरी शादी हुई तो हवन हुआ, बच्चे हुए तो हवन हुआ, संकट आया तो हवन हुआ, खुशियाँ आईं तो हवन हुआ. एक तरह से देखूं तो हर बड़ा काम करने से पहले हवन हुआ. किस लिए? क्योंकि मेरी एक आस्था है कि हवन कर लूँगा तो भगवान साथ होंगे. मैं कहीं भी रहूँगा, भगवान साथ होंगे. कितनी भी कठिन परिस्थिति हों, भगवान मुझे हारने नहीं देंगे. हवन कुंड में डाली गयी एक एक आहुति मेरे जीवन रूपी अग्नि को और विस्तार देगी, उसे ऊंचा उठाएगी. इस जीवन की अग्नि में सारे पाप जलकर स्वाहा होंगे और मेरे सत्कर्मों की सुगंधि सब दिशाओं में फैलेगी. मैं हार और विफलताओं के सारे बीज इस हवन कुंड की अग्नि में जलाकर भस्म कर डालता हूँ ताकि जीत और सफलता मेरे जीवन के हिस्से हों. इस विश्वास के साथ हवन मेरे जीवन के हर काम में साथ होता है.

हवन- मेरी मुक्ति

हवन कुंड की आग, उसमें स्वाहा होती आहुतियाँ और आहुति से और प्रचंड होने वाली अग्नि. जीवन का तेज, उसमें डाली गयीं शुभ कर्मों की आहुतियाँ और उनसे और अधिक चमकता जीवन! क्या समानता है! हवन क्या है? अपने जीवन को उजले कर्मों से और चमकाने का संकल्प! अपने सब पाप, छल, विफलता, रोग, झूठ, दुर्भाग्य आदि को इस दिव्य अग्नि में जला डालने का संकल्प! हर नए दिन में एक नयी उड़ान भरने का संकल्प, हर नयी रात में नए सपने देखने का संकल्प! उस ईश्वर रूपी अग्नि में खुद को आहुति बनाके उसका हो जाने का संकल्प, उस दिव्य लौ में अपनी लौ लगाने का संकल्प और इस संसार के दुखों से छूट कर अग्नि के समान ऊपर उठ मुक्त होने का संकल्प! हवन मेरी सफलता का आर्ग है. हवन मेरी मुक्ति का मार्ग है, ईश्वर से मिलाने का मार्ग है. मेरे इस मार्ग को कोई रोक नहीं सकता.

हवन- मेरा भाग्य

लोग अशुभ से डरते हैं. किसी पर साया है तो किसी पर भूत प्रेत. किसी पर किसी ने जादू कर दिया है तो किसी के ग्रह खराब हैं. किसी का भाग्य साथ नहीं देता तो कोई असफलताओं का मारा है. क्यों? क्योंकि जीवन में संकल्प नहीं है. हवन कुंड के सामने बैठ कर उसकी अग्नि में आहुति डालते हुए इदं न मम कहकर एक बार अपने सब अच्छे बुरे कर्मों को उस ईश्वर को समर्पित कर दो. अपनी जीत हार उस ईश्वर के पल्ले बाँध दो. एक बार पवित्र अग्नि के सामने अपने संकल्प की घोषणा कर दो. एक बार कह दो कि अब हार भी उसकी और जीत भी उसकी, मैंने तो अपना सब उसे सौंप दिया. तुम्हारी हर हार जीत में न बदल जाए तो कहना. हर सुबह हवन की अग्नि में इदं न मम कहकर अपने काम शुरू करना और फिर अगर तुम्हे दुःख हो तो कहना. जिस घर में हवन की अग्नि हर दिन प्रज्ज्वलित होती है वहाँ अशुभ और हार के अँधेरे कभी नहीं टिकते. जिस घर में पवित्र अग्नि विराजमान हो उस घर में विनाश/अनिष्ट कभी नहीं हो सकता.

हवन- मेरा स्वास्थ्य

आस्था और भक्ति के प्रतीक हवन को करने के विचार मन में आते ही आत्मा में उमड़ने वाला ईश्वर प्रेम वैसा ही है जैसे एक माँ के लिए उसके गर्भस्थ अजन्मे बच्चे के प्रति भाव! न जिसको कभी देखा न सुना, तो भी उसके साथ एक कभी न टूटने वाला रिश्ता बन गया है, यही सोच सोच कर मानसिक आनंद की जो अवस्था एक माँ की होती है वही अवस्था एक भक्त की होती है. इस हवन के माध्यम से वह अपने अजन्मे अदृश्य ईश्वर के प्रति भाव पैदा करता है और उस अवस्था में मानसिक आनंद के चरम को पहुँचता है. इस चरम आनंद के फलस्वरूप मन विकार मुक्त हो जाता है. मस्तिष्क और शरीर में श्रेष्ठ रसों (होर्मोंस) का स्राव होता है जो पुराने रोगों का निदान करता है और नए रोगों को आने नहीं देता. हवन करने वाले के मानसिक रोग दस पांच दिनों से ज्यादा नहीं टिक सकते.

हवन में डाली जाने वाली सामग्री (ध्यान रहे, यह सामग्री आयुर्वेद के अनुसार औषधि आदि गुणों से युक्त जड़ी बूटियों से बनी हो) अग्नि में पड़कर सर्वत्र व्याप्त हो जाती है. घर के हर कोने में फ़ैल कर रोग के कीटाणुओं का विनाश करती है. वैज्ञानिक शोध से पता चला है कि हवन से निकलने वाला धुआँ हवा से फैलने वाली बीमारियों के कारक इन्फेक्शन करने वाले बैक्टीरिया (विषाणु) को नष्ट कर देता है. अधिक जानकारी के लिए इस लिंक पर जाइए- http://articles.timesofindia.indiatimes.com/2009-08-17/health/28188655_1_medicinal-herbs-havan-nbri

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार दुनिया भर में साल भर में होने वाली ५७ मिलियन मौत में से अकेली १५ मिलियन (२५% से ज्यादा) मौत इन्ही इन्फेक्शन फैलाने वाले विषाणुओं से होती हैं! हवन करने से केवल ये बीमारियाँ ही नहीं, और भी बहुत सी बीमारी खत्म होती हैं, जैसे-

१. सर्दी/जुकाम/नजला

२. हर तरह का बुखार

३. मधुमेह (डायबिटीज/शुगर)

४. टीबी (क्षय रोग)

५. हर तरह का सिर दर्द

६. कमजोर हड्डियां

७. निम्न/उच्च रक्तचाप

८. अवसाद (डिप्रेशन)

इन रोगों के साथ साथ विषम रोगों में भी हवन अद्वितीय है, जैसे

९. मूत्र संबंधी रोग

१०. श्वास/खाद्य नली संबंधी रोग

११. स्प्लेनिक अब्सेस

१२. यकृत संबंधी रोग

१३. श्वेत रक्त कोशिका कैंसर

१४. Infections by Enterobacter Aerogenes

१५. Nosocomial Infections

१६. Extrinsic Allergic Alveolitis

१७. nosocomial non-life-threatening infections

और यह सूची अंतहीन है! सौ से भी ज्यादा आम और खास रोग यज्ञ थैरेपी से ठीक होते हैं! सबसे बढ़कर हवन से शरीर, मन, वातावरण, परिस्थितियों और भाग्य पर अद्भुत प्रभाव होता है. घर परिवार, बच्चे बड़े सबके उत्तम स्वास्थ्य, आरोग्य और भाग्य के लिए यज्ञ से बढ़कर कुछ नहीं हो सकता! दिन अगर यज्ञ से शुरू हो तो कुछ अशुभ हो नहीं सकता, कोई रोग नहीं हो सकता.

हवन- मेरा सबकुछ

यज्ञ/हवन से सम्बंधित कुछ मन्त्रों के भाव सरल शब्दों में कुछ ऐसे हैं

– इस सृष्टि को रच कर जैसे ईश्वर हवन कर रहा है वैसे मैं भी करता हूँ.

– यह यज्ञ धनों का देने वाला है, इसे प्रतिदिन भक्ति से करो, उन्नति करो.

– हर दिन इस पवित्र अग्नि का आधान मेरे संकल्प को बढाता है.

– मैं इस हवन कुंड की अग्नि में अपने पाप और दुःख फूंक डालता हूँ.

– इस अग्नि की ज्वाला के समान सदा ऊपर को उठता हूँ.

– इस अग्नि के समान स्वतन्त्र विचरता हूँ, कोई मुझे बाँध नहीं सकता.

– अग्नि के तेज से मेरा मुखमंडल चमक उठा है, यह दिव्य तेज है.

– हवन कुंड की यह अग्नि मेरी रक्षा करती है.

– यज्ञ की इस अग्नि ने मेरी नसों में जान डाल दी है.

– एक हाथ से यज्ञ करता हूँ, दूसरे से सफलता ग्रहण करता हूँ.

– हवन के ये दिव्य मन्त्र मेरी जीत की घोषणा हैं.

– मेरा जीवन हवन कुंड की अग्नि है, कर्मों की आहुति से इसे और प्रचंड करता हूँ.

– प्रज्ज्वलित हुई हे हवन की अग्नि! तू मोक्ष के मार्ग में पहला पग है.

– यह अग्नि मेरा संकल्प है. हार और दुर्भाग्य इस हवन कुंड में राख बने पड़े हैं.

– हे सर्वत्र फैलती हवन की अग्नि! मेरी प्रसिद्धि का समाचार जन जन तक पहुँचा दे!

– इस हवन की अग्नि को मैंने हृदय में धारण किया है, अब कोई अँधेरा नहीं.

– यज्ञ और अशुभ वैसे ही हैं जैसे प्रकाश और अँधेरा. दोनों एक साथ नहीं रह सकते.

– भाग्य कर्म से बनते हैं और कर्म यज्ञ से. यज्ञ कर और भाग्य चमका ले!

– इस यज्ञ की अग्नि की रगड़ से बुद्धियाँ प्रज्ज्वलित हो उठती हैं.

– यह ऊपर को उठती अग्नि मुझे भी उठाती है.

– हे अग्नि! तू मेरे प्रिय जनों की रक्षा कर!

– हे अग्नि! तू मुझे प्रेम करने वाला साथी दे. शुभ गुणों से युक्त संतान दे!

– हे अग्नि! तू समस्त रोगों को जड़ से काट दे!

– अब यह हवन की अग्नि मेरे सीने में धधकती है, यह कभी नहीं बुझ सकती.

– नया दिन, नयी अग्नि और नयी जीत.

हे मानवमात्र! हृदय पर हाथ रखकर कहना, क्या दुनिया में कोई दूसरी चीज इन शब्दों का मुकाबला कर सकती है? इस तरह के न जाने कितने चमत्कारी, रोगनाशक, बलवर्धक और जीत के मन्त्रों से यह हवन की प्रक्रिया भरी पड़ी है. जिंदगी की सब समस्याओं का नाश करने वाली और सुखों का अमृत पिलाने वाली यह हवन क्रिया मेरी संस्कृति का हिस्सा है, धर्म का हिस्सा है, आध्यात्म का हिस्सा है, यह सोच कर गर्व से सीना फूल जाता है. हवन मेरे लिए कोई कर्मकांड नहीं है. यह परमेश्वर का आदेश है, श्रीराम की मर्यादा की धरोहर है. श्रीकृष्ण की बंसी की तान है, रण क्षेत्र में पाञ्चजन्य शंख की गुंजार है, अधर्म पर धर्म की जीत की घोषणा है. हवन मेरी जीत का संकल्प है, मेरी जीत की मुहर है. मैं इसे कभी नहीं छोडूंगा.

अग्निवीर घोषणा करता है कि अब हम हर घर में हवन करेंगे और करवाएंगे. न जाति का बंधन होगा और न मजहब की बेडियाँ. न रंग न नस्ल न स्त्री पुरुष का भेद. अब हर इंसान हवन करेगा, सुखी होगा!

जो कोई भी व्यक्ति- हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध, यहूदी, नास्तिक या कोई भी, हवन करना चाहता है, संकल्प करना चाहता है, वह यहाँ इस लिंक पर जाकर मंगा सकता है। कोई जाति धर्म- मजहब या लिंग का भेद नहीं है।

http://agnikart.com/hawan/complete-yajna-kit

Best Wishes
Team Agniveer
http://agniveer.com/
https://www.facebook.com/agniveeragni

What I’m about to tell you is only the facts about Traitor and Corrupt Hillary Clinton



What I’m about to tell you is only the facts – historical facts, not rumors, not hearsay just plain undeniable facts.(This is just a small percentage of a much longer list)

 Of the two candidates running for president…

Only Hillary Clinton was caught lying to congress.

Only Hillary Clinton was fired from a job for being unethical.

Only Hillary Clinton deleted 30 some thousand emails after she was ordered to hand them over to the Fed.

Only Hillary Clinton had that same computer wiped clean by professionals.

Only Hillary Clinton got the rapist of a teenage girl off on rape charges then laughed about it.

Only Hillary Clinton lied to the American people about Benghazi. 

Only Hillary Clinton lied to the American people about her emails. 

Only Hillary Clinton lied about being under sniper fire.

Only Hillary Clinton lied about lying to the American people.

Only Hillary Clinton was involved in “Cash Cow “

Only Hillary Clinton has a long list of scandals. 

Only Hillary Clinton nationally belittled her husband’s sexual harassment (and rape) accusers.

Only Hillary Clinton is a career politician.

Only Hillary Clinton will not release her speeches to Goldman Sachs and other banks. 

Only Hillary Clinton is tied to Monsanto.

 Only Hillary Clinton was labeled “Extremely careless “about national security by the FBI! 

Only Hillary Clinton said she will raise taxes on the middle class.

 Only Hillary Clinton benefited from the DNC rigging an election! 

Only Hillary Clinton had to return stolen items from the White House.

 Only Hillary Clinton said the Benghazi victims parents where lying. 

Only Hillary Clinton wants you to vote for her based on her gender. 

Only Hillary Clinton has no real accomplishments after a lifetime in politics. 

Only Hillary Clinton has never created any jobs.

Only Hillary Clinton has been investigated by the FBI and found to have put national security at risk. 

Only Hillary Clinton has had two or more movies and several documentaries made about her questionable ethics. 

Only Hillary Clinton was called “Broomstick one” by the Secret Service.

 Only Hillary Clinton made congress and others spend millions and millions of tax dollars having hearings and investigating her to find that she lied, that would not have been spent if she would have simply told the truth in the first place! 

Fact – all facts! 

Only Hillary Clinton regularly cussed out and belittled her Secret Service detail. 

Only Hillary Clinton 

Only Hillary Clinton 

Only Hillary Clinton over and over again.

But you are going to vote for her because…. 

you don’t like Donald Trump? 

That is insane! 

I will never understand how any moral person in good conscience could vote for this woman. 

Share, repost and copy and paste in comments over and over again until eventually this is read by …

The one and only Hillary Clinton!

Part of me wants to miss you. By: Sant Bhatt


Part of me wants to touch you.

Feel your fingers and trace your thoughts.


Peel your anger from your darkest spots.


Wipe away your worries and wake up on your wild side.


Sign my name in stories we whisper at bedtime.


Sleep inside the inside of your neck.


Curl around the curves of your back.


Soak into the center of your soul.


Surrender to the shelter we both hold.


Close.


Part of me wants to miss you.


Wish for your kiss and wait for your face.


Dream of your danger and die for your taste.


Stare at the clock and swear at the moon.


Crave for the days that you’re here in this room.


So where should I put me?


What should I call home?


What space is the right place to find together and not alone?


Near, or far.


Close, or closure.


Stay, or away.


Caught in between different worlds.


Lost in two deep distant words.


Stranded within arms reach.


Abandoned on familiar streets.


Nowhere to turn.


Know where to hide.


So I’ll sway in the middle.


And wait for a sign.


Sant Bhatt

Muslims should leave cult of terror and terror ideology called Islam. 


Muslims should leave cult of terror and terror ideology called Islam. 

if they are concerned about truth, humanity and the real God. 


It’s not about ego, but the good of collective humanity and seeking the true path. 


You will probably survive this lie, but your posterity will suffer the worst of humanity crisis. 


Keep this in your concern. Dharma needs you to accept wrongs and fight against it to establish a path of Ultimate Truth and love for the emancipation of cursed human souls. 


A single book or ideology written in inefficient human language can never capture the enormity and complexity of the Truth, which is a true path to the God, instead, it’ll create unending and accelerating confusion and violence. 


Be free and apply your God given critical faculty to whatever book you read in this world. 


Seek truth instead of believing in lies out of fear (of a cruel man-God and hell) and greed (wine and virgins in heaven). 


These two are not the qualities which will be rewarded by God, whose basic law is Balance, through action and reaction, cause and effect, aggradation and degradation, convection etc.


Be your own Profate and Don’t be Cajoled by Fake Furu, Teacher or Master or Profate.

* If I would have used stick


जिसने भी लिखा अच्छा लिखा

एक बार मेरे कमरे में 5-6 सांप घुस गए। मैं परेशान हो गया, उसकी वजह से मैं कश्मीरी हिंदुओं की तरह अपने ही घर से बेघर होकर बाहर निकल गया। इसी बीच बाकी लोग जमा हो गए। मैंने पुलिस और सेना को बुला लिया। 


अब मैं खुश था कि थोड़ी देर में सेना इनको मार देगी ।


तभी कुछ पशु प्रेमी और मानवतावादी आ गये, बोले की नहीं आप गोली नहीं चला सकते, हम पेटा के तहत केस कर देंगे।


सेना वाले उसको ढेला मारने लगे, सांप भी उधर से मुंह ऊँचा करके जहर फेंकने लगे।

एक दो सांप ने तो एक दो सैनिक को काट भी लिया पर भागे नहीं।


फिर इतने में कुछ पडोसी मुझे ही बोलने लगे,

क्या भाई तुम भी बेचारे सांप के पीछे पड़े हो,

रहने दो, क्यों भगा रहे हो ?


उधर प्रशासन ने खबर भिजवा दिया, सांप के मुंह में जहर नहीं होना चाहिए, उसके मुंह में दूध दे दो

तो वो मुंह से जहर की जगह दूध फेंकेगा।


 ….. मैं हैरान परेशान…


फालतू में बात का बतंगड़ हो चुका था। न्यूज़ भी चलने लगे थे।


एनडीटीवी के रबिश ने कह दिया कि सबको जहर नजर आता है सांप नजर नहीं आता, उसकी भी जिंदगी है।


बरखा दत्त चीख़ चीख कर कहने लगी की ये तो भटके हुए संपोले हुए हैं, मकान मालिक इनको बेवजह परेशान कर रहा है ।

मकान मालिक को चाहिए कि वह इनको अपने घर में सुरक्षित स्थान पर इनको बिल बनाकर रहने दे और इनके खाने पीने का भरपूर ध्यान रखे।


इसी बीच एक सैनिक ने पैलेट गन चला दी और एक सांप ढेर हो गया ।


मुझे आशा जगी, सेना ही कुछ कर सकती है ।


तभी भाँड मीडिया ने कहा, पैलेट गन क्यों चलाया, सांप को कष्ट हो रहा है ।


अभी कोई कुछ सोचता उससे पहले ही हाइकोर्ट का भी फैसला जाने कहाँ से आ गया कि सांप पर पैलेट गन नहीं चला सकते इस गन से उसकी आँखे और चेहरा ख़राब हो सकता है।


उधर आम आदमी पार्टी ने कह दिया कि वहाँ जनमत संग्रह हो कि उस घर में सांप रहेगा या आदमी।


कुल मिलकर सांप को जीने का हक़ है इस पर सब एकमत हो गए थे।


इतने में जो मेरा पडोसी मेरा घर कब्ज़ा करना चाहता था वो सांप के लिए दूध, छिपकली और मेढक लेकर आ गया, उसको खिलाने लगा ।


उसकी मदद तथाकथित बुद्धिजीवियों, मानवतावादियों और पत्रकारों ने कर दी और पडोसी को शाबाशी दी।


मैं निराश होकर अब दूर से सिर्फ देखता था।


काश……..


*मैंने खुद लाठी लेकर शुरू में ही इन सांपो को ठिकाने लगा दिया होता तो आज ये दिन ना देखना पड़ता।*

Who wrote the best written

For once in my room 5-6 the snake. I was worried because of her I am Kashmiri Hindus like own home become homeless exited. Meanwhile other people gathered. I have police and the army took him .

Now I am happy that she was in the army they will kill you.

Some animal lovers only and humanitarian arrived, not saying you can’t shoot, we went under pēṭā case.

The Mas s’ army killed it, even the snakes mouth on high by throwing poison.

A snake has a military cut to also run on.

So in the meantime some neighbours just started speaking to me,

What would a brother you are a snake,

Leave Iver, why?

There news bhijavā administration, snake poison in your mouth should not be in his mouth, and give the milk

From the mouth, she poison phēṅkēgā instead of milk.

Surprise….. I’m desperate…

Talk to the bataṅgaṛa was news that chill.

With ravish ēnaḍīṭīvī did tell you all that poison is not a snake, it is life.

Barkha Dutt make loud scream, she said, ” this errant sampōlē, landlord they find disturbing.

The landlord must let them in your home a safe place as them bill and let me eat and drink well. Take care

Meanwhile, the military has a palette with a gun and a snake. Lots has happened.

I hope youngster an army, a few bills.

Only bhām̐ḍa media said, palette, why gun run with snakes.

Just some thought before the high court decision of where to go come on snake palette gun run not this gun from his eyes and face thanks.

There aam aadmi party ” there be a referendum that will be in the house or the snake man.

All in all, the snakes, the living truth. All were unanimous.

So my neighbours who conquered my home she wanted to do for a milk snake, lizard and frog came with her, feed her.

Help Him, so-called intellectuals and journalists mānavatāvādiyōṁ and defuse the TD.

I am dumbfounded by far was seeing only.

If only……..

* If I would have used stick

Crimes of Hillary Clinton Part 1


Crimes of Hillary Clinton Part 1 By : Alicia Lee


If you’re under 50 you really need to read this. If you’re over 50, you lived through it, so share it with those under 50. Amazing to me how much I had forgotten!When Bill Clinton was president, he allowed Hillary to assume authority over a health care reform. Even after threats and intimidation, she couldn’t even get a vote in a democratic controlled congress. This fiasco cost the American taxpayers about $13 million in cost for studies, promotion, and other efforts.

Then President Clinton gave Hillary authority over selecting a female attorney general. Her first two selections were Zoe Baird and Kimba Wood – both were forced to withdraw their names from consideration. Next she chose Janet Reno – husband Bill described her selection as “my worst mistake.” Some may not remember that Reno made the decision to gas David Koresh and the Branch Davidian religious sect in Waco, Texas resulting in dozens of deaths of women and children.

Husband Bill allowed Hillary to make recommendations for the head of the Civil Rights Commission. Lani Guanier was her selection. When a little probing led to the discovery of Ms. Guanier’s radical views, her name had to be withdrawn from consideration.

Apparently a slow learner, husband Bill allowed Hillary to make some more recommendations. She chose former law partners Web Hubbel for the Justice Department, Vince Foster for the White House staff, and William Kennedy for the Treasury Department. Her selections went well: Hubbel went to prison, Foster (presumably) committed suicide, and Kennedy was forced to resign.

Many younger votes will have no knowledge of “Travelgate.” Hillary wanted to award unfettered travel contracts to Clinton friend Harry Thompson – and the White House Travel Office refused to comply. She managed to have them reported to the FBI and fired. This ruined their reputations, cost them their jobs, and caused a thirty-six month investigation. Only one employee, Billy Dale was charged with a crime, and that of the enormous crime of mixing personal and White House funds. A jury acquitted him of any crime in less than two hours.

Still not convinced of her ineptness, Hillary was allowed to recommend a close Clinton friend, Craig Livingstone, for the position of Director of White House security. When Livingstone was investigated for the improper access of about 900 FBI files of Clinton enemies (Filegate) and the widespread use of drugs by White House staff, suddenly Hillary and the president denied even knowing Livingstone, and of course, denied knowledge of drug use in the White House. Following this debacle, the FBI closed its White House Liaison Office after more than thirty years of service to seven presidents.

Next, when women started coming forward with allegations of sexual harassment and rape by Bill Clinton, Hillary was put in charge of the #$%$ eruption” and scandal defense. Some of her more notable decisions in the debacle were:

She urged her husband not to settle the Paula Jones lawsuit. After the Starr investigation they settled with Ms. Jones.

She refused to release the Whitewater documents, which led to the appointment of Ken Starr as Special Prosecutor. After $80 million dollars of taxpayer money was spent, Starr’s investigation led to Monica Lewinsky, which led to Bill lying about and later admitting his affairs.

Hillary’s devious game plan resulted in Bill losing his license to practice law for ‘lying under oath’ to a grand jury and then his subsequent impeachment by the House of Representatives.

Hillary avoided indictment for perjury and obstruction of justice during the Starr investigation by repeating, “I do not recall,” “I have no recollection,” and “I don’t know” a total of 56 times while under oath.

After leaving the White House, Hillary was forced to return an estimated $200,000 in White House furniture, china, and artwork that she had stolen.

What a swell party – ready for another four or eight year of this type of low-life mess?

Now we are exposed to the destruction of possibly incriminating emails while Hillary was Secretary of State and the “pay to play” schemes of the Clinton Foundation – we have no idea what shoe will fall next. But to her loyal fans – “what difference does it make?”

Electing Hillary Clinton president would be like granting Satan absolution and giving him the keys to heaven!

Please SHARE!!


%d bloggers like this: